//असमय बारिश या ओलावृष्टि से फसल नुकसान हुई है तो अनुदान हेतु अभी ऑनलाइन आवेदन करें

असमय बारिश या ओलावृष्टि से फसल नुकसान हुई है तो अनुदान हेतु अभी ऑनलाइन आवेदन करें

बारिश या ओलावृष्टि से फसल नुकसान अनुदान हेतु आवेदन

रबी मौसम में लगातार असमय बारिश एवं ओलावृष्टि के कारण किसानों की रबी फसल को काफी नुकसान हो रहा है | पहले फरवरी माह में रबी फसल का नुकसान हुआ है तो मार्च के 04–06 मार्च तथा 13–15 मार्च को और यह नुकसान कई राज्यों में जारी है | इन दिनों में आंधी वर्षा तथा ओलावृष्टि से किसानों को काफी नुकसान का सामना करणा पड़ा है | बेमौसम बारिश से हुए फसलों की नुकसान को देखते हुए अलग–अलग राज्य सरकार किसानों को सहायता पहुंचा रही है | अभी हाल की बारिश को दखते हुए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा है की सरकार किसानों के साथ है |  वहीँ बिहार राज्य सरकार किसानों को मार्च में हुए फसल नुकसानी की भरपाई करने जा रही है | इसके लिए किसानों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए है | यह आवेदन आज से ही शुरू किकर दिए गए है | किसान समाधान इस योजना कि पूरी जानकारी लेकर आया है |

इस योजना का लाभ किन जिलों के किसान को होगा ?

13 से 15 मार्च के बीच बिहार के जिन जिलों में आंधी, पानी तथा ओला से फसल की नुकसानी हुआ है उन जिलों को शामिल किया गया है | इसके अंतर्गत राज्य के 23 जिलें आते हैं जो इस प्रकार है :- पटना, नालंदा, भोजपुर, बक्सर, रोहतास,भभुआ, गया, जहानाबाद, अरवल, नवादा, औरंगाबाद, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, पश्चिमी चम्पारण, दरभंगा, समस्तीपुर, मुंगेर, शेखपुरा, लखीसराय, भागलपुर, बाँका, मधेपुरा तथा किशनगंज | राज्य में 23 जिलों के सभी प्रखंडों के लिए कुल 3,84,016.71 हेक्टेयर क्षेत्रफल प्रभावित हुआ है |

किसानों को फसल नुकसान का कितना अनुदान दिया जायेगा

असामयिक वर्षा/ आंधी / ओला वृष्टि से प्रभावित किसानों को अनुदान भारत सरकार द्वारा अधिसूचित प्राकृतिक आपदाओं एवं राज्य सरकार द्वारा स्थानीय आपदाओं के अधीन निर्धारित सहाय्य मापदन्डों के अनुरूप दिया जाएगा | राज्य सरकार द्वारा इस कृषि इनपुट अनुदान के लिए 518.42 करोड़ रूपये आवंटित किये  है |

इसके लिए असिंचित फसल क्षेत्र के लिए 6,800 रूपये प्रति हेक्टेयर की दर से जबकि सिंचित क्षेत्र के लिए किसानों को 13,500 रूपये प्रति हेक्टेयर की दर से यह अनुदान दिया जाएगा | यह अनुदान प्रति किसान अधिकतम दो हेक्टेयर के लिए ही देय होगा | सरकार द्वारा प्रभावित किसानों को इस योजना के अन्तर्गत फसल क्षेत्र के लिए कम से कम 1,000 रूपये अनुदान दिया जायेगा |

किस समय हुई फसल नुकसान का अनुदान दिया जा रहा है ?

बिहार के कृषि एवं पशुपालन मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा राज्य में रबी 2019 – 20 मौसम 04–06 मार्च एवं 13 – 15 मार्च 2020 को हुई असामयिक वर्षा / आंधी ओलावृष्टि के कारण खड़ी फसलों की हुई क्षति की स्थिति को देखते हुए से प्रभावित जिलों के किसानों को कृषि इनपुट अनुदान देने का निर्णय लिया गया है |

किसान फसल नुकसान अनुदान हेतु ऑनलाइन अवेदन कब से कर सकते हैं ?

असामयिक वर्षा/आंधी/ओलावृष्टि से प्रभावित जिलों के किसान भाई-बहन इस कृषि इनपुट अनुदान के लिए 28 मार्च से 18 अप्रैल 2020 तक कृषि विभाग , बिहार सरकार के वेबसाईट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं | कृषि इनपुट अनुदान के लिए आँनलाईन पंजीकृत किसानों को ही दिया जाएगा | इस अनुदान की राशी किसनों के आधार से जुड़े बैंक खाते में ही अंतरित की जायेगी | अगर बैंक खाता आधार संख्या से जुड़ा नहीं होगा तो वैसे किसानों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा |ऑनलाइन आवेदन के लिए बिहार सरकार के वेबसाईट http://www.krishi.bih.nic.in पर दिये गये लिंक DBT in agriculture पर या http://dbtagriculture.bihar.gov.in पर लाँग–ईन कर अपना पंजीकृत अवश्य करा लें | इसके अलावा csc सेंटर से आवेदन कर सकते हैं |

असमय वर्षा/आँधी/ओलावृष्टि के कारण फसल नुकसानी का अनुदान लेने हेतु ऑनलाइन आवेदन हेतु क्लिक करें

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

The post असमय बारिश या ओलावृष्टि से फसल नुकसान हुई है तो अनुदान हेतु अभी ऑनलाइन आवेदन करें appeared first on Kisan Samadhan.

Source