//किसानों के लिए सबसे बड़ी मुसीबत बना लॉकडाउन, फसल तैयार है लेकिन काटने के लिए मजदूर नहीं

किसानों के लिए सबसे बड़ी मुसीबत बना लॉकडाउन, फसल तैयार है लेकिन काटने के लिए मजदूर नहीं

ख़बर सुनें

तमाम एक्सपर्ट का मानना है कि कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया को बड़ा आर्थिक नुकसान होने वाला है। कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन की वजह से देश-दुनिया को आर्थिक मंदी का भी सामना करना पड़ सकता है। कोरोना वायरस का गंभीर परिणाम देश के किसानों को भी भुगतना पड़ रहा है। गांवों की हालत ऐसी हो गई है कि ग्वाला लोगों से दूध नहीं खरीद रहा है, क्योंकि मिठाई की दुकानें बंद होने से दूध की सप्लाई नहीं हो रही है। कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन का खामियाजा उन किसानों को भी भुगतना पड़ रहा है जिनकी पूरी खेती ही मजदूरों के भरोसे है।

विज्ञापन
विज्ञापन

आगे पढ़ें

24 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा के बाद बढ़ी मुसीबत

विज्ञापन

Source