//कृषि ऋण

कृषि ऋण

क्या करें?

  • अपने आपको सूदखोरों के चंगुल से मुक्त रखने के लिए किसान बैकों से कृषि ऋण की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं।
  • किसानों की ऋण जरूरतों को पूरा करने के लिए यह सुविधा देश भर के फैले वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और सहकारी ऋण संस्थाओं के विशाल नेटवर्क के जरिए उपलब्ध हैं।
  • बैंक ऋण का समय से भुगतान सुनिश्चित करें।
  • किसानों का अपने ऋण का समुचित ब्यौरा रखना चाहिए।
  • बैंक ऋण का उपयोग उसी उद्देश्य के लिये करें, जिसके लिए ऋण लिया गया है।

आप क्या पा सकते हैं?

(अ) किसानों के ऋण की सुविधा

क्र.सं.

ऋण सुविधा

सहायता का पैमाना

1

ब्याज सहायता पर फसल ऋण प्रतिभूति (सिक्योरिटी)की आवश्यकता

प्रति वर्ष 7 प्रतिशत या निर्धारित ब्याज दर पर कृषक का फसल विवरण के अनुसार फसल ऋण तथा सही समय पर ऋण चुकता करने पर ब्याज पर छूट दी जाती है।

एक लाख रूपये तक के कृषि ऋण के लिए किसी प्रतिभूति (सिक्योरिटी) की आवश्यकता नहीं है।

2

किसान क्रेडिट कार्ड

यह एक अत्यन्त सुगम योजना है और इसके अन्तर्गत किसानों को फसल ऋण सुविधा किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से उपलब्ध है। किसानों को अधिकतम रु. 50000/- तक प्रति फसली मौसम में।

3

निवेश ऋण

किसानों का उनके निवेश उद्देश्य जैसेः- सिंचाई, कृषि मशीनीकरण, रोपण, बागवानी एवं कटाई उपरान्त प्रबंधन इत्यादि के लिये भी सस्ते ब्याज दर पर बैंक ऋण की सुविधा उपलब्ध है।

किससे सम्पर्क करें?

निकटतम सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक शाखा, आंचलिक ग्रामीण बैंकों तथा सहकारी ऋण समितियां

स्त्रोत : किसान पोर्टल,भारत सरकार

Source