//बिहार के दो व्यवसायियों ने खेती को अपनाया, कर रहे है मिश्रित खेती

बिहार के दो व्यवसायियों ने खेती को अपनाया, कर रहे है मिश्रित खेती

परिचय

पटना जिला के राघोपुर गांव के किसान धीरज कुमार व कृष्णकांत ने खेती कर जिले के किसानों के लिए प्रेरणास्रोत बने हुए हैं। पहले यह दोनों युवा किसान देश के अन्य राज्यों में बिजनेस किया करते थे। इसमें उन्हें अधिक आमदनी भी होती थी बावजूद पुनः घर वापसी कर खेती करने का मन बना लिया।

धीरज का कहना है कि गाँव के युवा एवं लोगों को खेती के प्रति रूझान पैदा करने के लिए मैंने खेती को अपनाया। इसी को देखते हुए गाँव के कई लोग खेती करने लगे। उन्होंने कहा कि खेती से अच्छा व्यवसाय व मुनाफे वाला कोई कार्य नहीं है।

कर रहे है मिश्रित खेती

इन दिनों वे 28 बीघा जमीन लीज पर लेकर खेती की शुरुआत की उन्होंने तीन बीघा में गन्ना, डेढ़ से तीन बीघा में पूसा बासमती चावल, व चार बीघा में केले की खेती कर मुनाफा कमा रहे हैं।

इसमें वैज्ञानिक एवं जुनून के साथ खेती करें तो किसान बेहतर जीवन-यापन कर सकते हैं। उनका कहना है कि मैं जब इस खेती को अपनाया तो सबसे पहले अनुभवी युवा किसान पप्पू सिंह से मैंने जानकारी प्राप्त कर खेती का कार्य शुरू किया। कृष्णकांत हमारे पार्टनर के तौर पर कार्य करते हैं। धीरज कहते हैं कि वैज्ञानिक एवं तकनीकी तरीके से किसान भाई खेती करें तो कम समय में अधिक मुनाफा कमा सकते हैं।

लेखन : संदीप कुमार, स्वतंत्र पत्रकार

Source