//यहाँ किसानों को हार्वेस्टर सहित अन्य कृषि यंत्रों की खरीद पर दी गई लगभग 8 करोड़ रुपये की सब्सिडी

यहाँ किसानों को हार्वेस्टर सहित अन्य कृषि यंत्रों की खरीद पर दी गई लगभग 8 करोड़ रुपये की सब्सिडी

कृषि यंत्र खरीद पर अनुदान

हार्वेस्टर सहित 81 प्रकार के कृषि यंत्र सब्सिडी पर लेने के लिए ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

किसानों को सब्सिडी पर कृषि यंत्र देने के लिए सरकार द्वारा किसानों से आवेदन मांगे गए थे जो चल रहे हैं, उन सभी किसानों ने जिस कृषि यंत्र के लिए आवेदन किये थे उनको कृषि यंत्र देने के लिए एग्रो बिहार–2020 का आयोजन किया गया है | यह मेला बिहार राज्य के पटना जिला में आयोजित किया जा रहा है जिसमें प्रदेशभर के किसान शामिल हो रहे हैं | इस कृषि मेले में 81 प्रकार के कृषि यंत्र दिए जा रहे हैं | जिसमें 7 प्रकार के फसल अवशेष प्रबंध के लिए भी है | इन कृषि यंत्रों पर सब्सिडी भी अलग–अलग है | लघु सिंचाई के कृषि यंत्रों पर 80 से 90 प्रतिशत तक की सब्सिडी है तो फसल प्रबंध के कृषि यंत्रों पर 75 से 80 प्रतिशत तक का सब्सिडी है | किसान समाधान एग्रो बिहार–2020 के पिछले 2 दिनों की जानकारी लेकर आया है |

अभी तक कितने सब्सिडी पर कृषि यंत्र दिए गए

यह मेला 14 फरवरी 2020 से शुरू किया गया है जो 17 फरवरी तक चलेगा | पिछले दो दिनों में राज्य के किसानों के बीच अब तक 14 एस.एम.एस. (स्ट्रा मैनेजमेंट सिस्टम), 4 सुपर सीडर, 20 रोटरी मल्चर, 6 हैप्पी सीडर, 16 कम्बाईन हार्वेस्टर, 95 रिपर – कम बाईन्डर, 39 जीरोटिलेज, 28 पावर टीलर, 356 रोटावेटर, 133 थ्रेसर, 9 सेल्फ प्रोपेल्ड रीपर, 36 स्ट्रा रीपर/स्ट्रा कम्बाईन, 85 चैफकटर, 5 मिनी रबर राईस मिल, 125 कल्टीवेटर, 633 पम्पसेट, 3 पोटैटो प्लान्टर, 5686 यूनिट सिंचाई पाईप, 3 पावर बीडर, 5 बुम स्प्रेयर, 185 स्प्रेयर, 47 डिस्क हैर्रो आदि कृषि यंत्रों के क्रय पर 7,70,54,500 रूपये अनुदान के रूप में वितरित किये गये, जिसमें आज 5,96,41,500 रूपये अनुदान दिए गए हैं |

कृषि मेला में इन किसानों ने लिया भाग

इस मेला में पटना, मुजफ्फरपुर, वैशाली, सीतामढ़ी, शिवहर, पू. चम्पारण, पं. चम्पारण , सारण, सिवान एवं गोपालगंज जिले के किसानों ने भाग लिया | इन सभी जिलों के किसानों को सरकारी खर्चे से लाया गया है | भाग लेने वाले किसनों में पटना से 170, सारण के 420, सिवान के 400, गोपालगंज के 290, मुजफ्फरपुर के 340, पू. चम्पारण के 560, पं. चम्पारण के 375, सीतामढ़ी के 360, वैशाली के 335 तथा शिवहर से 110 यानि कुल 3360 किसानों ने भ्रमण पर लाये गये हैं | कृषि मेला में किसी प्रकार की प्रवेश शुल्क नहीं है |

इन कृषि यंत्रों 75 से 80 प्रतिशत का अनुदान दिया जा रहा है

सरकार द्वारा किसानों को फसल अवशेष जलाने के बदले उनका खेतों में ही प्रबन्धन कर खाद के रूप में उपयोग करने को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से कई नवीनतम कृषि यंत्रों यथा 9 से 11 टाइन का हैप्पी सीडर, बिना रेक का स्ट्रा बेलर, स्ट्रा रीपर, सुपर सीडर, रोटरी मल्चर एवं स्ट्रा मैनेजमेंट सिस्टम पर सामान्य वर्ग के किसान के लिए 75 प्रतिशत तथा अनुसूचित जाति/ जनजाति और अत्यंत पिछड़ा वर्ग के किसानों के लिए 80 प्रतिशत अनुदान और स्वचालित / ट्रैक्टर चालित रीपर–कम–बाइंडर पर 50 प्रतिशत अनुदान देने की व्यवस्था की गई है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

The post यहाँ किसानों को हार्वेस्टर सहित अन्य कृषि यंत्रों की खरीद पर दी गई लगभग 8 करोड़ रुपये की सब्सिडी appeared first on Kisan Samadhan.

Source