//यहाँ 15 अप्रैल से सरसों एवं 20 अप्रैल से गेहूं समर्थन मूल्य पर खरीदेगी सरकार

यहाँ 15 अप्रैल से सरसों एवं 20 अप्रैल से गेहूं समर्थन मूल्य पर खरीदेगी सरकार

गेहूं एवं सरसों की सरकारी खरीद

कोरना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए देश में लॉक डाउन चल रहा है जिसको लेकर देश के सभी राज्यों में बहुत से कार्य बंद है | एक जगह पर लोगों को इकट्ठा होने पर पाबंदी लगा दी गई है | किसानों की रबी फसलों के पंजीकरण एवं खरीद बिक्री पर भी रोक लगा दी गई थी जिसे अब धीरे-धीरे शुरू किया जा रहा है | केंद्र सर्कार के द्वारा द्वारा लॉक डाउन में खेती-किसानी के कार्यों में किसानों को छूट दिये जाने के बाद राज्य सरकारें किसानों से समर्थन मूल्य पर फसलों की खरीदी की तैयारी में लग गई हैं |

इस संकट के समय में किसान यदि सही समय पर उनकी फसल नहीं बेच पाए तो उनके लिए यह बड़ी मुसीबत बन सकता है | यदि समय पर किसान उनकी उपज बेच पाए तो वह जायद की खेती भी कर सकते हैं अवं समय पर लोन आदि चूका सकते हैं | इन सब बातों को ध्यान में रखकर राज्य सरकारों ने किसानों से समय पर फसल खरीद का फैसला लिया है | हरियाणा राज्य सरकार किसानों से चने और सरसों की फसल की खरीद की अवधि 15 अप्रैल से 30 जून, 2020 अधिसूचित की गई है। किसान समाधान इसकी पूरी जानकारी लेकर आया है |

कब की जाएगी सरसों एवं गेहूं की समर्थन मूल्य पर खरीद

हरियाणा सरकार राज्य के किसानों से सरसों तथा गेहूं की सरकारी खरीदी शुरू करने जा रही है | सरसों की खरीदी 15 अप्रैल से तथा गेहूं की खरीदी 20 अप्रैल शुरू किया जाएगा | गेहूं तथा सरसों की खरीदी केंद्र सरकार के द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किया जाएगा |

किसान कहाँ एवं कैसे बेच सकेगें गेहूं एवं सरसों

कोरोना वायरस के कारण अधिक संख्या में किसानों को एक जूट होने से रोकने के लिए अधिक से अधिक संख्या में खरीदी केंद्र तथा मण्डी केंद्र बनाये जाने की निर्देश दिये गये हैं | इसके लिए राधास्वामी डेरा सत्संग भवनों के शैडो का इस्तेमाल खरीद के लिए किया जाएगा | सरसों तथा गेहूं की खरीदी किसानों द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकृत जानकारी के अनुरूप कूपन जारी करके की जाएगी | चार–पांच गांवों के किसानों को उनकी सुविधा के लिए क्रम अनुसार मंडियों में फसल लाने के लिए कहा जाएगा |  

किसानों से किस भाव पर ख़रीदी जाएगी  गेहूं एवं सरसों की फसल

केंद्र सरकार ने वर्ष 2019–20 के लिए सरसों का न्यूनतम समर्थन मूल्य 4425 रूपये प्रति क्विंटल और गेहूं का 1925 रूपये प्रति क्विंटल निर्धारित की गई है | यह मूल्य देश के सभी राज्यों के लिए एक समान है | 

15 अप्रैल से शुरू हो रहे सरसों तथा 20 अप्रैल से गेहूं की खरीदी केंद्र सरकार के द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किया जाएगा | अगर सरसों की खरीदी हैफेड व हरियाण वेयर हाऊसिंग तथा गेहूं की खरीद भारतीय खाध निगम के माध्यम से की जाती है | मंडियों में फसलों के बोली भाव को उनके न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम होने पर उनके अंतराल को भावांतर भरपाई योजना के अंतर्गत पूरा किया जाएगा |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

The post यहाँ 15 अप्रैल से सरसों एवं 20 अप्रैल से गेहूं समर्थन मूल्य पर खरीदेगी सरकार appeared first on Kisan Samadhan.

Source