//विनियर ग्राफ्टिंग ( Grafting )

विनियर ग्राफ्टिंग ( Grafting )

विनियर भेंट कलम
विनियर भेंट कलम द्वारा प्रसारण की यह विधि व्यावसायिक स्तर पर प्रसारण के लिये उपयुक्त है। जिस तने पर कलम लगानी हो उसे एक सप्ताह पहले ही पत्ती रहित कर देते है। इससे सुप्त कलियॉ पत्तियो के आधार पर फूल जाती है। विनियर भेंट कलम के लिये मानक

अ.नं.             गुण                     मानक
1.     प्रसारण की विधि      –      विनियर कलम
2.     मूल वृन्त का प्रकार   –      सीधी एवं स्वस्थ वृद्धी
3.    मूल वृन्त तैयार करना –      पॉलीथीन की थैलियों मे
4. पॉलीथीन की थैली का आकार – 20 x 10 से.मी. / 10 x 25 से.मी.
5.      मूल वृन्त की आयु     –     एक वर्ष आयु की
6.      मूल वृन्त का व्यास    –      0.5 -0.7 से.मी.
7.     कलम वृन्त की आयु    –     3 से 4 महिने
8.     कलम वृन्त का व्यास   –     0.5 – 0.7 से.मी.
9.     कलम वृन्त की लंबाई   –    15-18 से.मी.
10.     पौंधे की उंचाई          –     60 – 70 से.मी.
11.      तने का घेरा          –        2.5 – 3.5 से.मी.
12.    जडो का प्रकार/संरचना
*.साधारण जडे
*.जडे अधिक विकसित ना हों
*.जडे आपस में उलझी ना हो
13. ग्राफट के जोड मे समानता – ग्राफट का जोड सुदृढ हो एवं जमीन की सतह से 20 से.मी. उपर हो तथा पॉलीथीन के उपरी सतह से हो।
14. पत्तियॉ – स्वस्थ एवं हरी
15.रोग एंव किटो का प्रकोप
*.पत्ते खाने वाले कीटक से मुक्त
*.डाय बैक रोग के लक्षणो से मुक्त
*.अन्नद्रव्यों की कमी से मुक्त
16.सावधानियॉ
*.लंबी दूरी के यातायत के लिये नियमित पानी देना चाहिये
*.यदि पॉलीथीन नही लगाया तो मिटटी के गोलों मे दरार नही पडनी चाहिये
*मिट्टी के गोलों को घास की परत से अच्छी तर ढक दें।
Mukesh Kumar Pareek

https://www.hamarepodhe.com