//21 लाख किसानों को 18 सितम्बर के दिन किया जाएगा फसल बीमा राशि का भुगतान

21 लाख किसानों को 18 सितम्बर के दिन किया जाएगा फसल बीमा राशि का भुगतान

18 सितम्बर को किया जायेगा फसल बीमा का भुगतान

वर्ष-2020 में जुलाई माह में कम बारिश एवं अगस्त माह में अधिक बारिश के चलते किसानों की फसलो को कीट रोग एवं बाढ़ से काफी नुकसान हुआ है | इसको लेकर सरकार द्वारा कहा गया है की बाढ़ प्रभावितों को सरकार की ओर से बाढ़ से हुए नुकसान की पूरी भरपाई की जाएगी । नष्ट हुई फसलों की बीमा राशि एवं मुआवजा भी दिया जायेगा । वहीँ अभी तक किसानों को पिछले वर्ष 2019 खरीफ सीजन की फसल बीमा राशि का भुगतान अभी तक 1 वर्ष बीत जाने पर भी नहीं दिया गया है |

21 लाख किसानों को दी जाएगी फसल बीमा राशि

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के 21 लाख किसानों को वन क्लिक से 4600 करोड रुपए की बीमा राशि उनके खातों में ट्रांसफर करेंगे। खरीफ 2019 की बीमित फसलों की बीमा राशि किसानों के खाते में 18 सितम्बर को अंतरित की जाएगी। पूर्व में यह कार्यक्रम 8 सितम्बर को प्रस्तावित था। पिछले वर्ष राज्य में अतिवृष्टि के चलते कई जिलों में फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई थी जिसका अभी तक फसल बीमा राशि का भुगतान नहीं किया गया था, जिसे इस माह 18 सितम्बर को किसानों को दिया जाना प्रस्तावित है |

कृषि विभाग से प्राप्त जानकारी अनुसार खरीफ 2019 की बीमा राशि अन्तर्गत हरदा जिले के 57 हजार 620 किसानों को 109 करोड़ 61 लाख रूपये, राजगढ़ जिले के 2 लाख 31 हजार 769 किसानों को 427 करोड़ 37 लाख रूपये, खरगोन जिले के एक लाख 43 हजार 327 किसानों को 118 करोड़ 22 लाख रूपये, मंदसौर जिले के एक लाख 34 हजार 409 किसानों को 381 करोड़ 60 लाख रूपये, सीहोर जिले के एक लाख 6 हजार 347 किसानों को 157 करोड़ 34 लाख रूपये, धार जिले के एक लाख 5 हजार 161 किसानों को 195 करोड़ 47 लाख रूपये, विदिशा जिले के एक लाख 2 हजार 113 किसानों को 318 करोड़ 53 लाख रूपये, रतलाम जिले के एक लाख 259 किसानों को 282 करोड़ 80 लाख रूपये की बीमा राशि का भुगतान किया जाएगा। उपरोक्त जिलों के अतिरिक्त शेष जिलों के किसानों को 2623 करोड़ 23 लाख रूपये की बीमा राशि का भुगतान किया जायेगा।

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

The post 21 लाख किसानों को 18 सितम्बर के दिन किया जाएगा फसल बीमा राशि का भुगतान appeared first on Kisan Samadhan.

Source