कृषि हेतु प्रमुख ऋण योजनायें

एसबीआई कृषक उत्थान योजना उद्देश्य इस स्कीम का उद्देश्य उत्पादन एवं उपभोग के लिए लघु अवधि के ऋण उपलब्ध करवाना है ताकि किराएदार किसानों, बंटाईदारों और मौखिक पट्टाधारियों की जरूरतें पूरी हो सकें, ये वे…

मछलियों में रोग और उपचार

मछलियाँ भी अन्य प्राणियों के समान प्रतिकूल वातावारण में रोगग्रस्त हो जाती है। रोग फैलते ही संचित मछलियों के स्वभाव में प्रत्यक्ष अंतर आ जाता है। फिर भी साधारणतः मछलियां रोग-व्याधि से लड़ने में पूर्णत:…

मछली पालकों के लिए महत्वपूर्ण बिंदु

महत्वपूर्ण बिन्दु 1. तालाब को नियमानुसार पट्‌टे पर प्राप्त कर मत्स्यपालन करें नीलामी में न लें यह नियम के विपरीत हैं। 2. इस अाशय का सूचना पट लगायें कि इस तालाब में मछली पालन किया…

मिश्रित मछली पालन संस्कृति

मिश्रित मछली-सह-बतख पालन तालाब में मछलीपालन के साथ बतख पालन का समन्वित खेती लाभप्रद व्यवसाय है। मछली सह बतख पालन से प्रोटीन उत्पादन के साथ बतखों के मलमूत्र का उचित उपयोग होता है। मछली सह…

मत्स्य पालन के कार्यो का विस्तृत विवरण

चूने का प्रयोग यह पोषक तत्व कैल्शियम उपलबध कराने के साथ जल की अम्लीयता पर नियंत्रण रखता है। हानिकारक धातुओंको अवक्षेपित करता है। विभिन्न परजीवियों के प्रभाव से मछलियों को मुक्त कराता है तथा तालाब…

मत्स्य पालन के अंतर्गेत पाली जाने वाली मछलियां

मत्स्य पालन मे पाली जाने वाली मछलियाँ भारतीय प्रमुख शफर- इसकी संख्या तीन हैं- (1) कतला (2) रोहू (3) मृगल भारतीय प्रमुख शफर-कतला वैज्ञानिक नाम. कतला कतला सामान्य नाम. कतला, भाखुर भौगोलिक निवास एवं वितरण…

गन्ने की खेती

भूमि का चुनाव एवं तैयारी गन्ने के लिए अच्छे जल निकास वाली दोमट भूमि सर्वोत्तम होती है । ग्रीष्म में मिट्टी पलटने वाले हल सें दो बार आड़ी व खड़ी जुताई करें । अक्टूबर माह…

प्रमुख कीट, रोग और व्याधियां तथा रोकथाम के…

प्रमुख रोग पर्ण/गलन रोग यह फंफूद जनित रोग है, जिसका मुख्य कारक “फाइटोफ्थोरा पैरासिटिका” है। इसके प्रयोग से पत्तियों पर गहरे भूरे रंग के धब्बे बन जाते हैं, जो वर्षाकाल के समाप्त होने पर भी…